राष्ट्रीय समता विचार मंच का गठन श्री समीर सिंह चन्देल IAS (से. नि.) द्वारा Indian Trust Act 1882 के अंतर्गत किया गया हैं | Indiafree  मंच की website हैं |

 

श्री चन्देल का चयन वर्ष 1989 में प्रतिष्ठित भारतीय प्रशासनिक सेवा में हुआ था | गत् 25 वर्षों में उन्होंने राजस्थान तथा नई दिल्ली में अनेक महत्वपूर्ण पदों पर कार्य किया |

 

उन्होंने 1 अप्रैल 2015 से सेवा से 50 वर्ष की आयु में स्वैच्छिक सेवानिवृत्ति ले ली |

 

श्री चन्देल ने जिलाधीश सवाई माधोपुर, कार्यकारी निदेशक RIICO, प्रबंध निदेशक जनजाति विकास संघ तथा राजस्थान दुग्ध उत्पादन संघ RCDF इत्यादि पदों पर कार्य किया | उनका अंतिम पदस्थापन आयुक्त एवं सचिव उच्च शिक्षा विभाग, राजस्थान सरकार का था |

 

राजस्थान राज्य में गरीबी की विकट समस्या, और दूसरी ओर शासन व्यवस्था के पाखंड पूर्ण अक्रियाशील तथा भ्रष्ट स्वरूप से उन्हें अधिक वेदना होती थी |

 

25 वर्षो के लम्बे कार्यकाल में श्री चन्देल को गरीबी तथा विकास की स्थिति में वास्तविक परिवर्तन कम और ढोंग तथा शोर – शराबा  अधिक दिखता था | इस स्थिति से अधिक सार्थतकता से जूझने की दृष्टि से श्री चन्देल ने IAS छोड़कर  संगठन गठित करने का कठिन निर्णय लिया |

 

श्री चन्देल ने गत् डेढ़ दश्क में अपना ध्यान भारत की समस्याओं का अध्ययन करने, तथा उनका समाधान ढूंढने पर केन्द्रित किया |

 

साथ ही भारत की अन्याय कारी आरक्षण व्यवस्था ने श्री चन्देल का ध्यान आकर्षित किया | जब उन्होंने वर्ष 1990 में पंजाब राज्य में IAS प्रशिक्षु के रूप में Join किया तब देश मंडल आन्दोलन की आग में झुलस रहा था |

 

मंडल आन्दोलन, जिसमें कि अनेक युवाओं ने घोर अन्यायकारी आरक्षण व्यवस्था के विरुद्ध अपनी आवाज उठाई, तथा जिसके फलस्वरूप अनेक युवाओं ने अपनी जान तक न्यौछावर कर दी, ने श्री चन्देल के हृदय पर अमिट छाप छोड़ दी, तथा उसी समय उन्होंने समाज तथा व्यवस्था सुधार हेतु ठोस तथा सार्थक कदम उठाने का निर्णय किया |

 

वर्ष 2014 में नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व में भाजपा सरकार के गठन होने के बाद श्री चन्देल को लगा कि भाजपा भी कांग्रेस तथा अन्य राजनैतिक दलों की तरह ही बौद्धिक दिवालिए पन से ग्रस्त तथा उतनी ही भ्रष्ट थी |

 

इस पर उन्होंने राष्ट्र के बुद्धिजीवी वर्ग में राष्ट्र की राजनैतिक दिशा के संदर्भ में गंभीर चिन्तन तथा विचार विमर्श की आवश्यकता को महसूस किया |

 

इसी दृष्टि से उन्होंने राष्ट्रीय समता विचार मंच का गठन करके Indiafree.net नामक website का सृजन किया |

 

श्री चन्देल ने The Pilgrim, The Priest तथा 4th Public नामक तीन पुस्तकें लिखी हैं | परन्तु इन पुस्तकों का विधिवत प्रकाशन अभी नहीं हुआ हैं |

 

श्री चन्देल का विवाह वर्ष 1990 में अपनी बैचमेट श्रीमति शुभ्रा सिंह से हुआ हैं, तथा उनके पुत्र ध्रुव ओर अधिराज हैं |